द कश्मीर फाइल्स डॉक्यूमेंटेशन की तस्वीर : उपराष्ट्रपति

द कश्मीर फाइल्स डॉक्यूमेंटेशन की तस्वीर : उपराष्ट्रपति 

कश्मीरी पंडितों के पलायन पर आधारित फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ बॉक्स ऑफिस पर लगातार रिकॉर्ड बना रही है। इस फिल्म ने 235.52 करोड़ रुपये की कमाई कर ली है। देशभर से फिल्म को जबरदस्त रिस्पॉन्स मिल रहा है। पीएम मोदी और देश के तमाम मंत्री और नेताओं ने फिल्म की तारीफ की है, वहीं अब उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने भी फिल्म की सराहना की है।

फिल्म में कोई राजनीति नहीं

दरअसल एक कार्यक्रम के दौरान उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कहा कि “जनता फिल्म को सकारात्मक रूप से देख रही है। यह डॉक्यूमेंटेशन की तस्वीर है, कश्मीर फाइल्स को लेकर लोगों के बीच उत्साह देखने को मिल रहा है और इसमें कोई राजनीति नहीं है। उन्होंने आगे कहा कि यह दुर्भाग्य से हमारे देश में एक टैंडनशीट है, जो हर चीज को विवादास्पद बना देती है और राजनीतिक रंग देने की भी कोशिश करने लगते हैं, लेकिन यह फिल्म तथ्यात्मक, वास्तविक और शाब्दिक है। कई लोगों के आंखों के सामने की चीज है।

सत्य को सही रूप में लाना देश की भलाई

उपराष्ट्रपति से पहले पीएम मोदी ने फिल्म को लेकर कहा था कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के झंडाबरदार ‘दि कश्मीर फाइल्स’ फिल्म के आने के बाद बौखला गए हैं। इन दिनों इस फिल्म की हर ओर चर्चा हो रही है। जो सत्य है उसको सही स्वरूप में देश के सामने लाना, देश की भलाई के लिए होता है। पीएम मोदी ने कहा कि उनका विषय यह फिल्म नहीं है। किंतु, जो सत्य है उसे सही रूप में लाना देश की भलाई के लिए है। इसके कई रूप हो सकते हैं, किसी को पसंद आएगा किसी को नहीं। हैरानी इस बात की है कि जिस सत्य को तथ्यों के आधार पर बाहर लाया जा रहा है, उसको दबाने की पूरी कोशिश हो रही है।

कश्मीर के सच को छुपाने की कोशिश की गई

कई राज्यों के सीएम ने भी फिल्म की प्रशंसा की। मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान फिल्म देखने के बाद कहा कि मेरे रोंगटे खड़े हो गए। मेरा मन दर्द और तकलीफ से भर गया है। मैं फिल्म के निर्देशक विवेक को धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने सच को उजागर किया है। उन्होंने आगे कहा कि यह फिल्म बर्बरता और सच्चाई को उजागर करती है। बर्बर हमलों में भारत की बेटे-बेटियों को मार दिया गया। अपने सम्मान और अपनी इज्जत बचाने कश्मीरी पंडित और देश के बेटे-बेटियां कश्मीर छोड़ने पर मजबूर हुए। यह काला इतिहास जिससे रोंगटे खड़े हो जाते हैं। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कश्मीर के सच को छुपाने की कोशिश की गई है। नैरेटिव बनाकर गंदी राजनीति की तस्वीर दिखाई गई है। कश्मीरी पंडित भाई-बहनों के साथ जो अत्याचार और अन्याय हुआ है, उसकी मिसाल और कहीं नहीं मिलती।

250 करोड़ रुपये के क्लब में शामिल होने के करीब

’द कश्मीर फाइल्स’, काेराेना महामारी के बाद बॉक्स ऑफिस पर सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म बन गई है। अब इसके जल्द ही 250 करोड़ रुपये के क्लब में शामिल होने के उम्मीद जताई जा रही है। इस फिल्म ने बिग बजट की बॉलीवुड और साउथ की कई फिल्मों की कमाई को पीछे छोड़ दिया है।

इन भाषा में भी होगी फिल्म डब

द कश्मीर फाइल्स के वर्ल्ड वाइड कलेक्शन की बात करें, तो फिल्म अभी तक 252 करोड़ रुपये से अधिक का कलेक्शन कर चुकी है। विवेक अग्निहोत्री ने फिल्म का पोस्टर शेयर कर सोशल मीडिया पर बताया कि फिल्म ने तीसरे रविवार विदेश में 2.15 करोड़ की कमाई की। फिल्म की कामयाबी को देखते हुए इसे तमिल, तेलुगु, मलयालम और कन्नड़ भाषा में भी डब किया जा रहा है। वहीं फिल्म हाईएस्ट वर्ल्ड वाइड ग्रॉस नाम की लिस्ट में दूसरे स्थान पर है।

फिल्म को कई राज्यों में किया गया ट्रैक्स फ्री

‘द कश्मीर फाइल्स’को सबसे पहले हरियाणा में टैक्स फ्री किया गया। इसके बाद मध्य प्रदेश, गुजरात, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, गोवा और त्रिपुरा में भी फिल्म को टैक्स फ्री किया गया। कश्‍मीरी पंडितों के कश्मीर से पलायन और उन पर हिंसा की घटनाओं पर यह फिल्म बनी है। ”दि कश्मीर फाइल्स” 1990 में कश्मीरी पंडितों के दर्द, पीड़ा, संघर्ष और आघात की सच्ची घटना पर आधारित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.