भारत की रक्षा कंपनियां – रक्षा उद्योग में ‘आत्मनिर्भर’ बन रहा भारत

भारत की रक्षा कंपनियां – रक्षा उद्योग में ‘आत्मनिर्भर’ बन रहा भारत 

क्षा क्षेत्र के लिए ये उत्पाद सार्वजनिक क्षेत्र की हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL), भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड, भारत डायनेमिक्स लिमिटेड, बीईएमएल लिमिटेड, मुनिशन्स इंडिया लिमिटेड (MIL), बख्तरबंद वाहन निगम लिमिटेड (अवनी), एडवांस्ड वेपंस एंड इक्विपमेंट इंडिया लिमिटेड (एडब्ल्यूई इंडिया), ट्रूप कम्फर्ट्स लिमिटेड (टीसीएल), यंत्र इंडिया लिमिटेड (YIL), इंडिया ऑप्टेल लिमिटेड (आईओएल) और ग्लाइडर्स इंडिया लिमिटेड (जीआईएल) के शामिल हैं।

 रक्षा विनिर्माण केंद्र के रूप में उभर रहा भारत

जाहिर है अब देश में ही भारतीय रक्षा उद्योग मुख्य रूप से सशस्त्र बलों की जरूरतों को पूरा करने के लिए विविध उत्पाद और बाजार के साथ विकसित हुआ है और इन्हीं प्रयासों की वजह से निर्यात में हालिया सफलताओं से प्रेरित होकर, भारत एक उभरते हुए रक्षा विनिर्माण केंद्र के रूप में अपनी क्षमता का एहसास करने के लिए तैयार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.