भारत चीन समाचार हिंदी, भारत एक शक्तिशाली देश है, जो प्यार से 2023

सीडीएस जनरल रावत की चीन को दो-टूक, सीमा पर यथास्थिति को बदलने से रोकने के लिए मजबूती से खड़ा रहेगा भारत |

बिपिन रावत ने कहा है कि भारत अपनी सीमाओं की रक्षा के लिए किसी भी दबाव के आगे नहीं झुकेगा।

सीडीएस जनरल बिपिन रावत (CDS Gen Bipin Rawat) ने पूर्वी लद्दाख में चीन से जारी गतिरोध का जिक्र करते हुए कहा कि भारत उत्तरी सीमाओं पर यथास्थिति को बदलने के प्रयासों को रोकने के लिए मजबूती के साथ खड़ा रहेगा।

चीफ आफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत ने पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ गतिरोध का जिक्र करते हुए गुरुवार को कहा कि भारत उत्तरी सीमाओं पर यथास्थिति बदलने के प्रयासों को रोकने के लिए मजबूती से खड़ा रहा और साबित कर दिया कि वह किसी भी दबाव के आगे नहीं झुकेगा। जनरल रावत ने यहां ‘रायसीना संवाद’ में अपने संबोधन में कहा, चीन ने सोचा कि वह थोड़ी सी ताकत दिखाकर अपनी मांगें मनवाने के लिए राष्ट्रों को विवश करने में सफल रहेगा क्योंकि उसके पास प्रौद्योगिकीय लाभ की वजह से श्रेष्ठ सशस्त्र बल है। 

जलवायु परिवर्तन पर मिलकर काम करें भारत-अमेरिका : कैरी

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के विशेष जलवायु दूत जान केरी ने गुरुवार को कहा कि जलवायु परिवर्तन की समस्या से निपटने में नए ईंधन और नई प्रौद्योगिकियां ढूंढ़ने के लिए भारत और अमेरिका मिलकर काम कर सकते हैं। उन्होंने यह उम्मीद भी जताई कि पूरे भारत में 2030 तक 450 गीगावाट नवीकरणीय ऊर्जा की उपलब्धता की गति तेज करने के लिए दोनों देश एक भागीदारी करेंगे। ‘रायसीना डायलाग’ में केरी ने कहा कि पेरिस समझौते से जुड़ी जिम्मेदारियों और इससे भी अधिक दायित्व निभाने के काम करने के लिए भारत में एक जोश है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस दिशा में तेजी से आगे बढ़ने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.